Answers

2015-07-29T09:24:02+05:30
जीवन मे मेरा लक्ष्य जीवन को सही तरीके से जीने के लिए एक लक्ष्य का होना आवश्यक है |लक्ष्य होने से हमारा जीवन सफलता की ऊँचाई छु सकता है | बिना लक्ष्य के परिश्रम और प्रयत्न भी व्यर्थ हो जाते है। जीवन का लक्ष्य ही जीवन के सफलता की पहली सीडी है |जिस प्रकार द्रोणाचार्य ने अर्जुन को लक्ष्य देकर ही एक सफल योद्धा बनाया था , ठीक उसी प्रकार हमारे जीवन मे भी एक लक्ष्य होना चाहिए|लक्ष्य ,भी ऐसा होना चाहिए जो हमारे मानव समाज की उन्नति मे सहायक हो। मेरा लक्ष्य जीवन मे एक ईमानदार इंसान एवं एक सफल इंजीनियर बनना है |ईमानदार व्यक्ति ही जीवन को सही तरीके से जी सकता है एवं दूसरों की सहायता कर सकता है |समाज को सुदरण बनाने के लिए समाज मे ईमानदार लोगो का होना ज़रूरी है |देश के विकास के लिए नयी नयी परियोजनाए जैसे सड़के ,ब्रिज ,डैम आदि का सफलता पूर्वक निर्माण होना आवश्यक है |इन सभी बातों को ध्यान मे रखते हुए एवं शिक्षा मे टेक्नालजी के प्रति मेरी रुचि को देखते हुए इंजीनियर बनना ही मेरा लक्ष्य है |इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए मैंने अच्छे आदर्शो को अपनाया |साथ-साथ शिक्षा मे भी कठिन परिश्रम कर रहा हूँ | जिस प्रकार गीता मे श्री कृष्ण ने कहा था की "कर्म कर और फल की चिंता मत कर "उसी तरह हम सभी को चाहिए की जीवन मे एक लक्ष्य बनाए और उसकी प्राप्ति क लिए परिश्रम करते रहे | मुझे विश्वास है की अपनी कठिन परिश्रम और सुव्यवस्थित प्रयत्नो से आने वाले समय मे जीवन मे एक सफल और ईमानदार इंजीनियर अवश्य बन जाऊंगा |
46 4 46