Answers

2015-06-24T19:33:40+05:30

This Is a Certified Answer

×
Certified answers contain reliable, trustworthy information vouched for by a hand-picked team of experts. Brainly has millions of high quality answers, all of them carefully moderated by our most trusted community members, but certified answers are the finest of the finest.
1. चैत्र - चैत्र के महीने बसंत के आने के साथ जुड़ा हुआ होता है. हिंदू कैलेंडर के अनुसार पहला महीना है.ये माना जाता है की चैट महीना इस ब्रह्मांड का पहला दिन है.
त्यौहार - होली, चैती छठ, गुड़ी पड़वा, विष्णु, उगादी, राम नवमी, हनुमान जयंती
2. वैशाख - वैशाख माह सबसे शुभ महीनों में से एक है और भगवान विष्णु को समर्पित किया जाता है. किसानी का त्यौहार इस महीने में मनाया जाता है (बैशाखी).वैशाख पूर्णिमा को बुद्ध पूर्णिमा या गौतम बुद्ध के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है
त्यौहार - बुद्ध पूर्णिमा, अक्षय तृतीया, नरसिम्हा जयंती
3. ज्येष्ठा - ज्येष्ठ हिंदू कैलेंडर में तीसरे चांद्र मास है. ज्येष्ठा माह ग्रीष्म ऋतू की शुरुआत का निशाना है. ज्येष्ठा का मतलब बुजुर्ग, सबसे प्राचीन, सबसे वरिष्ठ , सुप्रीम, सभी प्राणियों के ज्येष्ठ विष्णु को माना जाता है.
त्यौहार - वत सवित्र व्रत, गंगा दुश्शेरा, शनि जयंती, नारदा जयंती
4. आषाढ़ - आषाढ़ माह शून्य महीने के रूप में जाना जाता है. यह पूजा और व्रत के लिए बहुत शुभ महीना माना जाता है.
त्यौहार- गुरु पूर्णिमा, जगन्नाथ रतयात्रा
5. श्रवण - श्रवण माह  हिंदू कैलेंडर में एक पवित्र महीने माना जाता है. श्रावण माह की कथा महासागरों के मंथन से जुडी है. इस महीने में भक्तों को लंबी और समृद्ध जीवन प्राप्त करने के लिए भगवान शिव की पूजा करते है
त्यौहार - श्रवण सोमवार व्रत, मंगला गौरी व्रत, नाग पंचमी, रक्षा बंधन, वरलक्ष्मी व्रत
6. भाद्रपद - भाद्रपदा माह हिंदू धर्म में अद्वितीय महत्व और शोहरत हासिल कर ली है. यह चन्द्र वर्ष के बिलकुल आधे में होता है. भद्रा एक संस्कृत शब्द है और सुरक्षा का मतलब है.
त्यौहार - कृष्णा जयंती, गणेश चतुर्थी, गणेश विसर्जन, अनंत चतुर्दशी (जैन त्यौहार)
7. आश्विन  - अश्विन चंद्र हिंदू कैलेंडर के सातवें महीने है. इस माह सितंबर और अक्टूबर में आता है। शब्द " अश्विन " प्रकाश का मतलब है और परमात्मा जुड़वाँ का प्रतिनिधित्व करता है. इस महीने के धार्मिक और आध्यात्मिक महत्व दोनों है.
त्यौहार - सरस्वती पूजा, दुर्गा अष्टमी, नवरात्री, दसरा
8. कार्तिक - कार्तिक के इस पवित्र महीने बड़े उत्साह और भक्ति के साथ मनाया जाता है. लोग उपवास , मंदिरों का दौरा करना और विभिन्न धार्मिक कार्यों का संचालन करते है इस महीने में. कार्तिक महीना शिवा और विष्णु भक्तों के लिए बहुत महत्वपूर्ण महीना है
त्यौहार - करवा चौथ, धनतेरस, छठ पूजा,कार्तिक पूर्णिमा
9. मार्गशीर्ष - मार्गशीर्ष माह भक्ति और समर्पण से भरा है. यह माह भगवान कृष्ण से संबंधित है. इस महीने को मगसर , अगहन और अग्रहायण के रूप में जाना जाता है। दान और स्नान इस महीने के बहुत महत्व है.
त्यौहार - कालभैरव जयंती, विवाह पंचमी, दत्तात्रेय जयंती
10. पौष - पौष माह में सूर्य उतरी दिशा में पारगमन करता है और उत्तरायण पुण्यकालम शुरू होता है. उत्तरायण मकर संक्रांति के सबसे प्रसिद्ध त्योहार के साथ शुरू होता है. पौष माह पूर्वजों भाता के लिए अच्छा है.
त्यौहार - संक्रांति, पुत्रदा एकादशी
11. माघ - माघ महीने में शादी, धागा समारोह, घर ​​वार्मिंग जैसे सभी प्रमुख अवसरों प्रदर्शन करने के लिए शुभ माना जाता है. मघा स्नानं (पवित्र नदियों में डुबकी ) इस माह के प्रमुख अनुष्ठान है. भारत में इस माह सबसे बहुप्रतीक्षित वसंत के मौसम की शुरुआत और सूखी सर्दी के मौसम के अंत के निशान करता है.
त्यौहार - बसंत पंचमी, भीष्म अष्टमी, सकत चौथ
12. फाल्गुन - फाल्गुन महीना मेधावी महीने ( महत्व और गुण ) माना जाता है. इस माह को सिसिर ऋतू कहते है. फल्गु गया के तट पर एक पवित्र नदी का नाम है.
त्यौहार - विजय एकादशी, महा शिवरात्रि होलिका दहन









18 3 18