Answers

2015-07-29T09:43:08+05:30
ग्रामीण संस्कृति भारत की अधिकांश जनसंख्या ग्रामीण इलाको मे रहती है । गाँव मे रहने वाले अधिकांश लोग साधारण किसान या श्रमिक होते है और उनके जीवन यापन का साधन कृषि होता है इसलिए ग्रामीण जीवन , खेती –किसानी से प्रभावित होता है । ग्रामीण संस्कृति का प्रकृति और पर्यावरण के साथ अच्छा सामंजस्य देखने को मिलता है । यहाँ के लोग प्रकृति प्रेमी होते है एवं प्रकृतिक संसाधन जैसे नदी , कुए, वन आदि का सम्मान करते है । गाँव मे पालतू पशु जैसे गाय , भैंस , बकरी , कुत्ता आदि बहुतायत से पाले जाते है । गाँव मे खेती ही लोगो का प्रिय व्यवसाय व रोजगार होता है । यहाँ पर आधुनिक साधनो का उपयोग सीमित तौर पर किया जाता है। प्रकृति के निकट एवं मेहनती जीवन शैली एवं, प्रदूषण मुक्त वातावरण आदि के कारण ग्रामीण जीवन स्वास्थ्य की दृष्टी से लाभदायक होता है । गाँव मे लोग सामान्यतः बड़े परिवारों मे रहते है जिसमे परिवार के बच्चे –बुजुर्ग सभी एक साथ एक ही घर मे रहते है। ग्रामीण जीवन के कुछ दूसरे पहलू भी है जैसे- शिक्षा , चिकित्सा , परिवहन आदि की सीमित सुविधाए ही गाँव मे उपलव्ध होती है ।
12 3 12