Answers

2015-12-24T18:25:14+05:30
Abdul kalam which is also known as misile mam is high inspriation for us belong to very poor family. They cells newspars in his childhood but They think to belong a high personality in word. They intalligence help him. And They are high inspriation for us
0
2015-12-29T23:48:34+05:30
डा० ए०
पी० जे०
अब्दुल कलाम
'डा० अब्दुल कलाम'
का जन्म 15
अक्टूबर 1931 ई०
को भारत के तमिलनाडु
राज्य के रामेश्वरम में
हुआ था। इनका पूरा
नाम डा० अबुल
पकीर जैनुलाबदीन अब्दुल कलाम है।
इनके पिता श्री जैनुलाबदीन
मध्यमवर्गीय परिवार के थे। कलाम ने अपने पिता से
ईमानदारी, आत्मानुशासन की विरासत पाई
और माता से ईश्वर-विश्वास तथा करुणा का उपहार लिया।
कलाम ने 1950 में तिरुचिरापल्ली के सेंट जोसेफ
कॉलेज से बी० एस० सी०
की परीक्षा उत्तीर्ण
की। उन्होंने मद्रास इंस्टीटयूट ऑफ़
टेक्नोलोजी से एरोनोटिकल इंजीनियरिंग में
उपाधि प्राप्त की। 1958 ई० में कलाम
डी० टी० डी० एंड
पी० में तकनीकी केंद्र में
वरिष्ठ वैज्ञानिक सहायक के पद पर नियुक्त हुए। 1963 से
1982 ई० तक कलाम ने अन्तरिक्ष अनुसंधान समिति में विभिन्न
पदों पर काम किया।
सन 1981 के गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर डा० कलाम को
'पद्म भूषण' से सम्मानित किया गया। भारत सरकार द्वारा 1990
ई० में इन्हें 'पद्म विभूषण' और 1997 ई० में भारत के
सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' से सम्मानित किया गया। 25
जुलाई 2002 को डा० कलाम ने भारत के राष्ट्रपति के रूप में शपथ
ली। कलाम 'मिसाइल मैन' के नाम से प्रसिद्द हैं।
सोमवार दिनांक 27 जुलाई 2015 की शाम मेघालय
की राजधानी शिलांग में हृदयाघात होने से डॉ
कलाम का देहान्त हो गया। वे भारतीय प्रबन्ध
संस्थान में एक लैक्चर दे रहे थे कि अचानक बेहोश हो गए।
पूर्व राष्ट्रपति डॉ. कलाम का अन्तिम संस्कार पूरे सैन्य सम्मान के
साथ गुरूवार, 30 जुलाई, 2015 को सुबह 11 बजे तमिलनाडु के
रामेश्वरम नगर में किया गया।
डा० अब्दुल कलाम एक महान वैज्ञानिक होने के साथ-साथ
गंभीर चिंतक और अच्छे इंसान भी थे।
बाल-शिक्षा में विशेष रूचि रखने वाले कलाम को वीणा
बजाने का भी शौक था। राजनीति से दूर
रहकर भी कलाम राजनीति के सर्वोच्च
शिखर पर विराजमान रहे।
0