Answers

  • Brainly User
2016-01-25T16:47:02+05:30
आओ फिर गणतंत्र मनाये I देशप्रेम फिर जीवंत बनाये.. जागे फिर एक नई भोर मै.. जुड़ जाये सब एक डोर मै.. ऐसा सुन्दर तंत्र बनाये.. आओ फिर गणतंत्र मनाये I एक गीत हो एक राग हो.. फूल कई पर एक बाग़ हो.. जीवन का ये मन्त्र बनाये.. आओ फिर गणतंत्र मनाये I उठे ऊपर भूभागों से .. राग द्धेष की आगो से .. मन को भी स्वतंत्र बनाए.. आओ फिर गणतंत्र मनाये.. जय हिन्द... -Rajender joshi
1 5 1