Answers

2014-09-13T21:16:46+05:30

This Is a Certified Answer

×
Certified answers contain reliable, trustworthy information vouched for by a hand-picked team of experts. Brainly has millions of high quality answers, all of them carefully moderated by our most trusted community members, but certified answers are the finest of the finest.
मोबाइल आज हर किसी की आवश्यकता बन गया है। गरीब से लेकर अमीर तक की जेब में मोबाइल देखा जा सकता है। मोबाइल कंपनियों अपने प्रयासों से इसे सबकी पहुँच तक बना दिया है। जहाँ इसके महत्व अनगिनत है, वहीं इसके दुष्परिणाम भी कम नहीं है। विद्यार्थियों के लिए तो यह ऐस वस्तु है, जिसके बिना वह जी नहीं सकते है। चौबीसों घटों फोन पर बात करते रहना, नहीं तो इसमें आनलाइन रहना, बचे समय में गाने सुनते रहना ही उनका जीवन है। वे इसके रहते खेल में ध्यान नहीं देते, पढ़ाई से पल्ला झाड़ते नज़र आते हैं। इस प्रकार वह मोबाइल के अंदर गुम होते जा रहे हैं। यदि ऐसा ही चलता रहा, तो देश का भविष्य पतन के गर्त में गिरता चला जाएगा। यह सही है कि मोबाइल उनके जीवन के अकेलेपन को समाप्त करता है, परन्तु उसी में अपने अस्तित्व को मिटा देना समझदारी नहीं है।
41 3 41
if u think it is nice pls answer best
2014-09-13T21:32:45+05:30

This Is a Certified Answer

×
Certified answers contain reliable, trustworthy information vouched for by a hand-picked team of experts. Brainly has millions of high quality answers, all of them carefully moderated by our most trusted community members, but certified answers are the finest of the finest.
Aaj kal sab mobile ke bina zindahi adhuri lagti hai. har kisis ke haath mein ek mobile. paatshala jaate hue baache bhi mobile pakde hue dekhe jaate hai. aaj kal mobile lekar ghumna fashion hogaya hai. baazar mein bhi kayi tarah ke nayi nayi mobile mil rahe hai. chote baache bhi mobile ki mang karte hai. mobile ki duniya ne toh sabko apne vash mein karliya hai. lekin mobile par sab kya karte hai? baache mobile mein games khelte hai, kikoshron ( teenagers) mobile par Facebook, twitter, whatsapp ityadi jaise par lage rehte hai. bade bhi humesha mobile par baath karte rehte hai ya kaam karte rehte. mobile zindagi mein aane ke baad log ek dusre ke saath baat bhi nahi karte hai. sab apne mobile se chipke rehte hai. yeh rishton ko kamjor kar raha hai. mobile ke kayi upyog bhi hai lekin bahut kam iska accha upyog karte hai. isiliye mera manna hai ki mobile ko istmal kiya jaaye par ek had tak kiya jaaye varna voh hum par bhaari pad sakta hai. log kehte hai " kisi bhi cheej ka zyada istmal haanikarak hota hai".
15 3 15