मन एक बर्तन नही है जिसे भरा जाना है बल्कि एक ज्वाला है जिसे प्रज्वलित किया जाना है

1
मन एक बर्तन नही है जिसे भरा जाना है बल्कि एक ज्वाला है जिसे प्रज्वलित किया जाना है
Comment has been deleted

Answers

2015-09-25T15:49:08+05:30
कृप्या करके नीचे दिए attachment को देखें I
0