Answers

2015-12-18T17:03:08+05:30
अटल बिहारी वाजपेयी
युगपुरुष

रेगिस्तान से धुल उठी,
पैरों टेल धरती गयी कांप,
बुद्ध एक बार फिर से मुस्कुराये I

यह साहस की एक निशानी
भारत की पहचान बनी
‘ अब परमाणु शक्ति हैं हम ’
पुरे संसार में गूंजी भारत की वाणी

चल पेड हम विकास की राह पर,
मार्ग दिखाया उन्होंने हैमें उस पथ पर
दिया हर वह सहायता जो मांगता
एक नौजवान भारत था उनसे  

है वे हमारे युग्पुर्ष इस सदी के
धन्य हैं हम उनकी सेवा पाकर
जो कहें हैं उनको भारत निर्माता,
बहुत ही कम जन्में है नेता I

1 4 1