Answers

2016-02-06T15:39:13+05:30
Ye reshami zulfein, ye sharbati aankhein,
inhe dekh kr g rhe h sbhi....
0
2016-02-06T16:24:59+05:30
लगी आज सावन की फिर वो झड़ी है
लगी आज सावन की फिर वो झड़ी है 

फिर वो झड़ी है  
वही आग फिर सीने में जल पड़ी है
लगी आज सावन की .....
0