Answers

2016-02-13T09:49:56+05:30
क्योकि फजर के नमाज़ और सूरज निकलने के बीच इंसान का दिमाग सबसे ज्यादा शांत होता है और फांसी के समय उसके शरीर में ज्यादा तड़पन और अकड़न नहीं होता और दूसरे शब्दों में जेल मैन्युअल के तहत फांसी सूर्योदय से पहले के समय दी जाती है क्योकि जेल के अन्य कार्य  सूर्योदय के बाद शुरू हो जाते है। अन्य कार्य प्रभावित न हो इसलिए सुबह फांसी दी जाती है।

0