Answers

2016-03-17T08:54:43+05:30
भगवान् का दूसरा रूप है माँ,
उनके लिए दे देंगे जां,
हमको मिलता जीवन उनसे,
कदमो में है स्वर्ग बसा,
संस्कार वह हमें सिखलाती,
अच्छा-बुरा हमें बतलाती,
हमारी गलतियों को सुधारती,
प्यार अह हम पर बरसाती,
तबीयत अगर हो जाए खराब,
रात-रात भर जागते रहना,
माँ बिन जीवन है अधुरा,
खाली-खाली सूना-सूना,
खाना पहले हमें खिलाती,
बाद में खुद है खाती,
हमारी ख़ुशी में खुश हो जाती,
दुःख में हमारे आंसू बहाती,
कितने खुशनसीब है हम,
पास हमारे है माँ,
होते बदनसीब वे कितने,
जिनके पास न होती माँ,
0