Answers

2016-03-19T14:35:45+05:30
ऐसे छात्र जिनकी परीक्षा की तैयारी पूरी नहीं होती है ये छात्र आदतन नकलची नहीं होते लेकिन पढ़ाई के बोझ या अतिव्यस्तता की वजह से नकल करने के लिए मजबूर होते हैं। या फिर ऐसे छात्र जिनके लिए शिक्षा मायने नहीं रखती या फिर शिक्षा की अहमियत नहीं समझते उनमें नकल करने की प्रवृत्ति अधिक होती है। या फिरजिन छात्रों को क्लास में बहुत अधिक प्रतिद्वंद्विता का सामना करना पड़ता है जिसकी वजह से वे पढ़ने से घबराते हैं। या फिरऐसे छात्र जो शॉर्टकट अपना कर समाज को दिखने के लिए केवल डिग्री पाना चाहते हैं जिनके लिए व्यक्तिगत जीवन में ष्जीवन मूल्योंष् के कोई महत्ता नहीं होती तथा सामाजिक हित या अहित कोई मायने नहीं रखता।
0