Answers

  • Brainly User
2014-12-05T22:00:27+05:30
देश में यदि एकता रहे तो उसकी आधी समस्या यूहीं समाप्त हो जाएगी। भारत इसका सबसे बड़ा उदाहरण है। भारत देश में विभिन्न धर्म विद्यमान हैं। इन सबकी संस्कृति, रहन-सहन व पूजा करने का ढ़ंग अलग-अलग है। यह सब भारत देश के कीमती मोतियों के समान है। इन मोतियों को एकता का धागा बाँधे हुए है। एक ऐसा भी समय आया था जब भारत ने देश, धर्म व जाति के नाम पर दंगों व टकरावों के घाव खाए थे। उससे उभरने में उसे सालों निकल गए। वह जान गया है कि देश में विभिन्न जातियाँ हों या धर्म हो इनके बीच टकराव देश में अशान्ति के कारण बनते हैं। आज जो भारत है उसने धार्मिक एकता के मंत्र को पहचाना है। वह इस बात से परिचित हो गया है की यदि वह एक होकर नहीं रहेगा तो वह विकास के रास्ते पर चल नहीं सकता। जिस प्रकार 4-5 लकड़ियों के साथ मिलाने पर कोई उन्हें तोड़ नहीं सकता, उसी प्रकार हर धर्म के व्यक्तियों का एकता के सूत्र में बंधे देश का कोई कुछ बिगाड़ नहीं सकता। धर्म मनुष्य को अच्छाई को
0