Answers

2015-01-28T06:58:45+05:30

यह सब शुरू हुआ था करीबन २०० साल पहले.उसवक्त मुग़ल सम्राझ मिट गया था.मुग़ल बादशाओं के बाद ए थे ब्रिटिश हिन्दुस्तान को कब्ज़ा करने.वह सफल भी हुए थे.भृथ के लोगों ने हिन्दुस्तानियों का जीना हराम कर दिया था.वह हम सब को बहुत कष्ट देते थे.

 हमारे देश के वीर योद्धा जो एक खुशाल ज़िन्दगी चुन सकते थे लेकिन उन्होंने एक कठिन जीवन चुना ताकि हम स्वतंत्रित हो सके.उन में से बहुत को एक बहुत बड़ी कीमत की झुकनी पड़ी थी और और कीमत है उनकी प्राण.ब्रिटिश के लोगों ने हमारे बहुत से वीर योद्धा को मार दिए थे.इसी वजेसे हमें उन्हें कभी नहीं भूलना चाहिए.

 उनके सदा स्मरण रखना चाहिए.उन्ही के वजेसे १९४७ साल में भारत को अपना स्वतंत्रता वापस मिली थी.यह हुआ था २६  अगस्त को.इस दिन को हम आज भी मानते ते ताकि हम सब मिलकर उन सब वीर योद्धाओं को सम्मान दे सके जिनके वजेसे हम वह कर परहे है जो हम करना चाहते है.

 हम उन्हें सम्मानित करने के लिए हर साल २६ अगस्त को उनके ऊपर एक चार्ट तैयार करते है.उसमें उनके जीवन के बारे में महत्वपूर्ण बाटे होते है.यह चार्ट बहुत ही जानकारी देती है.हम अपने हाथों से अपना कमरा भी सजाते है , तिरंगों से और फूल से.इस तरह से हम उनसब वीर सेनाओं और योद्धाओं को सम्मानित करते है.

 हम अंत में कहेंगे"जय हिन्द".

0