Answers

The Brainliest Answer!
2015-03-20T12:24:21+05:30

This Is a Certified Answer

×
Certified answers contain reliable, trustworthy information vouched for by a hand-picked team of experts. Brainly has millions of high quality answers, all of them carefully moderated by our most trusted community members, but certified answers are the finest of the finest.


Khelo ka mahatva manav jeevan ki saflta ke 3 shaktiyo ke vikas ki avsykta hai manshik aatmik aur sharirik in 3 shaktiyo ke vikas ke liye vicharako ne alag alag upay btaye hai

aur kha jata hai swasthya sharir me hi swasthya mastisk ka niwas hota hai khel sarir ko hast pust aur sunder bnane ka sadhan hai jeevan me swasthya ka bhut mahatva hai aur swasthya ke liye khelo ka apna bhut mahatva hai jab khiladi maidan me khelne utarta hai to uska rom rom pulkit ho uthata hai khel me bhasa ke nam per bhed bhav nahi hota khel ko sirf manornjan tak hi simit nahi rakhna chahiye balki ek lakshya bna lene se nischit hi saflta milti hai jeevan me khelo ka bhut mahatva hota hai isliye har vyakti ko kisi na kisi khel me bhag zaroor lena chahiye her khel ka apne apna mahatva hota hai khas ker vidyarthiyo ko shiksha ke sath sath khelo me bhi bhag lena avasyak hai log kehte hai ki kheloge kudoge to banoge kharab aur padhoge likhoge to banoge nawab ye galat hai hame padhne ke liye mastishak ki zaroorat j=hai aur swasthya mastishak khelo se hi hota hai khelne se samay ki barbadi nahi hoti khelo se anushasan bhi ata hai isliye khelne bhi zaroori hai

15 3 15
2015-03-22T09:25:20+05:30

This Is a Certified Answer

×
Certified answers contain reliable, trustworthy information vouched for by a hand-picked team of experts. Brainly has millions of high quality answers, all of them carefully moderated by our most trusted community members, but certified answers are the finest of the finest.
खेल और खेल के महत्व को तेजी से देखने की शैक्षिक और सामाजिक अंक दोनों से, भारत में पहचाना जा रहा है। अधिक से अधिक धनराशि स्कूलों, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में खेलों को प्रोत्साहित करने के लिए आवंटित किया जा रहा है; वास्तव में, खेल के पाठ्यक्रम का एक अनिवार्य हिस्सा बन गए हैं। हॉकी, फुटबॉल, क्रिकेट या टेनिस जैसे खेल के शौकीन थे, जो केवल कुछ छात्रों को, विशेष सुविधाएं अनुमति दी गई थी, जब समय था। लेकिन अब नियमित कार्यक्रमों के अंत में पुरस्कार वितरण कार्यों उनके पसंदीदा टीमों को खुश या भाग लेने के लिए खेलों में भाग लेने के लिए की परवाह किए बिना विशेष अभिरुचि, की, के रूप में संभव के रूप में कई छात्रों के लिए राजी है, और केवल कभी-कभी मैच देखने नहीं करने के लिए सभी शिक्षण संस्थानों में तैयार कर रहे हैं एक खेल के मौसम की। शिक्षाविदों और दूसरों को यह खेल और खेल देश के युवाओं के लिए, दोनों लड़कों और लड़कियों के लिए, पर्याप्त सुविधाएं धन की उपलब्धता पर, ज़ाहिर है, निर्भर करता है, प्रदान की जानी चाहिए कि एक पूरे के रूप में समाज के हित में है कि इस निष्कर्ष पर आ गए हैं ।
17 4 17